हम एक साथ तारामंडल के रूप में बुलाये गये हैं, पोप 

पोप फ्राँसिस ने ईश वचन को सुनने का प्रोत्साहन दिया है क्योंकि ईश वचन हमें आत्मकेंद्रित होने से बचाता और बुलाहट के लिए खोल देता है।
उन्होंने 6 मई के ट्वीट संदेश में लिखा, "ईश वचन हमें आत्मकेन्द्रित होने से बचाता है और हमें शुद्ध, आलोकित एवं नवीकृत कर देता है। अतः आइये हम ईश वचन सुनें, ताकि हम उस बुलाहट के लिए खुले हो सकेंगे जिसको ईश्वर हमें प्रदान करते हैं।"
अपने दूसरे ट्वीट में पोप ने लिखा, "ख्रीस्तियों के रूप में, हम व्यक्तिगत बुलाहट के लिए आमंत्रित किये गये हैं किन्तु सामूहिक बुलाहट के लिए भी बुलाये गये हैं। हम हरेकजन ईश्वर के हृदय में एक तारे के रूप में चमकते हैं, लेकिन हम एक साथ तारामंडल के रूप में बुलाये गये हैं ताकि यह मानवता के रास्ते को आलोकित करे।"    

Add new comment

8 + 2 =