मिशन के समर्थन में पेपल फाऊंडेशन का सहयोग, पोप का आभार

पोप फ्राँसिस ने पेपल फाउंडेशन के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की, और दुनिया भर में कलीसिया के काम में इसके व्यापक योगदान के लिए आभार व्यक्त किया।
पोप फ्रांसिस ने 28 अप्रैल को वाटिकन के क्लेमेंटीन सभागार में पेपल फाऊँडेशन के 100 सदस्यों से मुलाकात की।
पोप ने उनके उदार समर्थन के लिए अपना आभार प्रकट करते हुए कहा, "हमारा एक साथ मिलना मुझे दुनिया के बहुत सारे क्षेत्रों में मेरे और कलीसिया दोनों को प्रदान किए गए आपके उदार समर्थन के लिए, अपनी गहरी कृतज्ञता व्यक्त करने का अवसर है।"
उन्हें पास्का की शुभकामनाएँ देते हुए पोप ने कहा, "जब हम पाप और मृत्यु पर हमारे प्रभु की विजय एवं पास्का के इस पावन काल में उनके नये जीवन के वरदान को मना रहे हैं, मेरी आशा है कि पुनरूत्थान की खुशी हमेशा आपके हृदयों को भर दे तथा प्रेरितों एवं शहीदों की कब्रों पर आपकी तीर्थयात्रा, प्रभु एवं कलीसिया के प्रति आपकी निष्ठा बढ़ा दे।"
पेपल फाऊंडेशन ने कई सालों से वैश्विक स्तर पर अनेक भाई बहनों के समग्र विकास को प्रोत्साहित किया है, खासकर, शिक्षा, उदारता और कलीसियाई परियोजनाओं के द्वारा उसने कलीसिया को एकात्मता एवं शांति की संस्कृति के निर्माण के प्रयास में मदद दी है।
पोप ने कहा, "इसके द्वारा, आपकी उदार पहुँच उन लोगों तक जारी है जो समाज के सुदूर क्षेत्रों में जी रहे हैं और बहुधा आध्यात्मिक गरीबी का सामना कर रहे हैं। साथ ही इन दिनों जब हम भयंकर युद्ध और संघर्षों को देख रहे हैं, हमें पीड़ितों, शरणार्थियों और उन लोगों को जो बेहतर भविष्य की तलाश में अपने घरों से दूर जी रहे हैं उन्हें देखभाल एवं मानवीय सहायता पहुँचाये जाने की जरूरत है। आपका कार्य प्रेम, आशा एवं करुणा प्रकट करने में मदद देता है ताकि उन सभी लोगों के बीच सुसमाचार का प्रचार किया जा सके जो उनकी उदारता एवं प्रतिबद्धता से लाभान्वित होते हैं।"
पोप ने उनके सभी कार्यों के लिए अपनी कृतज्ञता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि काथलिक कलीसिया के परमाध्यक्ष चुने जाने के शुरू से ही, पीटर के उत्तराधिकारी के साथ एकजुटता पेपल फाउंडेशन की पहचान है।      
पोप ने उनसे अपनी प्रेरिताई, कलीसिया की आवश्यकता, सुसमाचार के प्रचार एवं हृदय परिवर्तन हेतु प्रार्थना की कामना की तथा उन्हें अपना प्रेरितिक आशीर्वाद दिया।
वेबसाईट के अनुसार, पेपल फाऊंडेशन ने 358 गिरजाघरों और प्रार्थनालयों, 170 सेमिनरी, 404 रेकटोरिस और कॉन्वेंट, 273 स्कूल एवं 104 अस्पतालों के निर्माण में आर्थिक मदद दी है। सन् 1988 में अमरीका में स्थापित फाऊंडेशन ने रोम के धर्माध्यक्ष के सहयोग से  2000 से अधिक योजनाओं में स्कॉलरशीप प्रदान किया है।  

Add new comment

1 + 4 =