पोप ने माता मरियम के ग्रोटा का दर्शन करने का प्रोत्साहन दिया

देवदूत प्रार्थना के उपरांत पोप ने सभी तीर्थयात्रियों, परिवारों, पल्ली दलों एवं संगठनों का अभिवादन किया। उन्होंने शांति की रानी से यूक्रेन के लिए प्रार्थना करने का आह्वान किया।
पोप ने सभी विश्वासियों को माता मरियम के स्वर्गोदग्रहण महापर्व की शुभकामनाएँ देते हुए कहा, "मैं यहाँ उपस्थित आप सभी को, छुट्टियोँ में गये लोगों, साथ ही साथ उन सभी को जो अवकाश नहीं ले सकते एवं अकेले और बीमार हैं, कुँवारी मरियम के स्वर्गोदग्रहण का महापर्व की शुभकामनाएँ देता हूँ। हम उन्हें न भूलें। मैं इन दिनों उन सभी को कृतज्ञता के साथ याद करता हूँ जो समुदाय के लिए आवश्यक सेवाएँ सुनिश्चित करते हैं। आपके कार्यों के लिए धन्यवाद।"
पोप ने महापर्व के अवसर पर विश्वासियों को माता मरियम के तीर्थस्थलों का दर्शन करने का प्रोत्साहन देते हुए कहा, "हमारी माता मरियम को समर्पित इस दिन में, मैं उन लोगों से आग्रह करता हूँ जिन्हें समय है कि वे हमारी स्वर्गीय माता के सम्मान में मरियम के ग्रोटो का दर्शन करें। अनेक रोमवासी और तीर्थयात्री रोम की संरक्षिका माता मरियम से प्रार्थना करने के लिए संत मरिया मजोरे जाते हैं।"
पोप ने विश्व शांति के लिए प्रार्थना करने की सलाह देते हुए बतलाया कि माता मरियम की यह प्रतिमा शांति की रानी की है जिसको पोप बेनेडिक्ट 15वें ने स्थापित किया है। उन्होंने कहा, "हम माता मरियम की मध्यस्थता से प्रार्थना करते हैं कि ईश्वर दुनिया को शांति प्रदान करें और हम विशेषकर यूक्रेन के लोगों के लिए प्रार्थन करते हैं।"
अंत में उन्होंने अपने लिए प्रार्थना का आग्रह करते हुए सभी को पर्व की शुभकामनाएँ अर्पित की। 

Add new comment

2 + 6 =