पोप ने दी निरंतर प्रार्थना करने का निमंत्रण

विश्व में जब कई प्रकार की समस्याएँ हैं, पोप फ्राँसिस ने लोगों को अनवरत प्रार्थना करते रहने का निमंत्रण दिया है क्योंकि प्रार्थना ही वह शक्ति है जो हमें ईश्वर के करीब लाती और उनसे जोड़े रखती है।
उन्होंने 13 अगस्त के ट्वीट संदेश में लिखा, "हमें निरंतर प्रार्थना करनी चाहिए, उस समय भी, जब सब कुछ व्यर्थ लगे, जब ईश्वर बहरे और गूँगे लगें और यह मेरे लिए समय की बर्बादी के समान महसूस हो। भले ही स्वर्ग धूमिल लगे, ख्रीस्तीय विश्वासी प्रार्थना करना नहीं छोड़ता।"      

Add new comment

5 + 12 =