पोप द्वारा श्रीलंका के पास्का बम विस्फोट की सच्चाई का आग्रह

पोप फ्राँसिस ने इटली में काम कर रहे श्रीलंकाई काथलिकों के साथ श्रीलंका के पास्का बम विस्फोट के पीड़ितों के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की और अधिकारियों से 2019 के हमलों के पीछे की सच्चाई को उजागर करने का आह्वान किया। आज संत पेत्रुस महागिरजाघर में कोलंबो महाधर्मप्रांत के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल मालकम रंजीथ श्रीलंका के उन शहीदों के लिए विशेष पवित्र मिस्सा चढाया जो 2019 में की पास्का रात को पवित्र मिस्सा के दौरान आतंकी हमले के शिकार हो गये थे।
21 अप्रैल 2019 को समन्वित इस्लामी आतंकवादी आत्मघाती बम हमलों की एक श्रृंखला में 3 गरजाघर और 3 बड़े होटलों में हुए बम विस्फोटों से  कम से कम 45 विदेशी नागरिकों सहित लगभग 270 लोग मारे गए थे और कुछ 500 घायल हो गए थे।
पवित्र मिस्सा के बाद पोप फ्राँसिस ने इतनी बड़ी संख्या में संत पेत्रुस की कब्र के चारों ओर एकत्रित होकर अपने विश्वास को प्रकट करने और आतंकी हमले के शिकार लोगों के लिए पवित्र मिस्सा अर्पित करने हेतु उनकी प्रशंसा की। पोप ने भी अपनी प्रार्थना में उन्हें याद किया।

Add new comment

7 + 7 =