संत पापा द्वारा कोरोना पीड़ितों के प्रति अपना सामीप्य

लूर्द के तीर्थस्थान में बड़े पर्दे पर संत पापा का संदेश सुनते हुए तीर्थयात्रीलूर्द के तीर्थस्थान में बड़े पर्दे पर संत पापा का संदेश सुनते हुए तीर्थयात्री

संत पापा फ्राँसिस ने रविवार 7 जून को दे ट्वीट कर ʺपवित्र त्रित्व का महापर्व सभी ख्रीस्तियों से खुद को ईश्वर की सुंदरता, अच्छाई और अटूट सच्चाई से मोहित करने के लिए आमंत्रित किया और कोरोना वायरस महामारी के शिकार लोगों उनके परिजनों और स्वास्थ्य कर्मियों के प्रति अपनी निकटता प्रकट की।

काथलिक कलीसिया पेंतेकोस्त के बाद आने वाले रविवार को पवित्र त्रित्व का महापर्व मनाती है। इस वर्ष रविवार 7 जून पवित्र त्रित्व का महोत्सव मनाया गया। इस अवसर संत पापा फ्राँसिस ने ट्वीट प्रेषित तक सभी ख्रीस्तियों को मानवीय इतिहास के रचियता की सुन्दरता का अवलोकन करने हेतु आमंत्रित किया।

1ट्वीट
संदेश में उन्होंने लिखा,ʺपवित्र त्रित्व का महापर्व हमें खुद को ईश्वर की सुंदरता, अच्छाई और अटूट सच्चाई से मोहित करने के लिए आमंत्रित करती है। वे विनम्र हैं और हमारे निकट हैं, जिन्होंने हमारे इतिहास में प्रवेश करने के लिए मानव शरीर को धारण किया, ताकि हर पुरुष और महिला उनके साथ रह सके और अनंत जीवन पा सके।ʺ

2 ट्वीट
संत पापा फ्राँसिस कोरोना वायरस महामारी के शिकार लोगों उनके परिजनों और महामारी के इस जंग में प्रथम लाइन के योद्धाओं के लिए प्रार्थना करते हैं और सभी लोगों को भी उनके लिए प्रार्थना करने हेतु आमंत्रित करते हैं। रविवार के ट्वीट प्रेषित कर उन्होंने महामारी के शिकार लोगों के प्रति अपना सामीप्य व्यक्त किया।

संदेश में उन्होंने लिखा,ʺकई देशों में अभी भी बड़ी संख्या में कोविद-19 के पीड़ित हैं। मैं उन सभी बीमारों और उनके परिवारों और उनकी देखभाल करने वाले सभी लोगों के प्रति अपनी निकटता व्यक्त करना चाहता हूँ।ʺ

Add new comment

11 + 1 =