श्रीलंका को सांत्वना

स्वर्गीय रानी प्रार्थना के दौरान संत पापा फ्रांसिस

संत पापा फ्रांसिस ने स्वर्गीय रानी प्रार्थना के उपरांत श्रीलंका के प्रति अपनी संवेदना अर्पित की।

स्वर्गीय रानी प्रार्थना के उपरांत संत पापा ने कहा कि मैं पुनः श्रीलंका के लोगों के प्रति अपनी आध्यात्मिक और पितृत्वपूर्ण संवेदना व्यक्त करता हूँ। मैं कार्डिनल मालकोम रंजीत और कोलाम्बो महाधर्मप्रान्त की कलीसिया के अति निकट हूँ। मैं बम विस्फोट से प्रभावित घायलों और मृतकों के लिए अपनी प्रार्थना अर्पित करते हुए उनके परिवारों को अपनी सामीप्य प्रदान करता हूँ। संत पापा ने श्रीलंका की मदद हेतु लोगों का आहृवान करते हुए कहा कि मैं आशा करता हूँ सभी इस आतंकवादी, अमानवीय कार्य की निंदा करेंगे, हम इसे कभी न्यायसंगत नहीं ठहरा सकते हैं। इतना कहने के बाद उन्होंने सभों के संग मिलकर श्रीलंका हेतु प्राणम मरियम प्रार्थना का पाठ किया।

इसके उपरांत संत पापा ने सभी परिवारों, पल्लियों, समुदायों और इटली और विश्व के विभिन्न स्थानों से आये हुए तीर्थयात्रियों का अभिवादन किया।

उन्होंने कहा कि मैं आशा करता हूँ कि आप पास्का अठवारे को विश्वास में व्यतीत करें। आप पुनर्जीवित प्रभु की खुशी और शांति के वाहक बनें। इतना कहने के बाद संत पापा अपने लिए प्रार्थना का निवेदन करते हुए सभों को पास्का की शुभकामनाएं प्रदान की।

Add new comment

1 + 0 =