मानव तस्करी मानवता के शरीर में घाव, पोप फ्रांसिस

पोप फ्राँसिस ने मानव तस्करी के खिलाफ विश्व दिवस की याद करते हुए 30 जुलाई के ट्वीट संदेश में इसे खत्म करने का आह्वान किया।
उन्होंने अपने संदेश में लिखा कि, "मानव तस्करी समकालीन मानवता के शरीर में अब भी घाव बना हुआ है। मैं उन सभी का तहेदिल से शुक्रिया अदा करता हूं, जो मानव प्राणी को वस्तु के रूप में प्रयोग करने वाले निर्दोष पीड़ित लोगों की भलाई के लिए कार्य करते हैं। लेकिन अब भी बहुत कुछ करना बाकी है।"
30 जुलाई को मानव तस्करी के खिलाफ विश्व दिवस मनाया जाता है। इस दिवस का मुख्य उद्देश्य है मानव तस्करी जैसी भयांकर बुराई को दूर करने के लिए समाज में जागरूकता उत्पन्न करना है।  

Add new comment

3 + 1 =