ऑनलाइन पर सन्त पापा के ख्रीस्तयाग की मांग

वाटिकन के सन्त मर्था प्रेरितिक आवास के प्रार्थनालय में
वाटिकन के सन्त मर्था प्रेरितिक आवास के प्रार्थनालय में

वाटिकन के सन्त मर्था प्रेरितिक आवास के प्रार्थनालय से सन्त पापा फ्राँसिस द्वारा ख्रीस्तयाग अर्पण की ऑनलाइन सेवा बन्द हो जाने के बाद विश्व के कई राष्ट्रों से काथलिकों ने निराशा व्यक्त की है तथा सन्त पापा ने आग्रह किया है कि वे पुनः इस सेवा को शुरु करें।

वाटिकन के सन्त मर्था प्रेरितिक आवास के प्रार्थनालय से सन्त पापा फ्राँसिस द्वारा ख्रीस्तयाग अर्पण की ऑनलाइन सेवा बन्द हो जाने के बाद विश्व के कई राष्ट्रों से काथलिकों ने निराशा व्यक्त की है तथा सन्त पापा ने आग्रह किया है कि वे पुनः इस सेवा को शुरु करें।    

लाइवस्ट्रीम सेवा बन्द होने पर निराशा
कोविद महामारी के कारण गिरजाघरों के बन्द हो जाने के बाद विगत 09 मार्च से सन्त पापा फ्राँसिस प्रतिदिन सन्त मर्था प्रेरितिक आवास के प्रार्थनालय से ख्रीस्तयाग अर्पित करते रहे थे, जिसकी लाइव स्ट्रीमिंग की जाती रही थी तथा विश्व के हज़ारों काथलिक धर्मानुयायी ऑनलाइन ख्रीस्तयाग में शामिल होते रहे थे। कई यूरोपीय देशों में लॉक डाऊन में छूट दिये जाने के उपरान्त 18 मई से यह सेवा समाप्त हो गई है। 18 मई से ही इटली के समस्त काथलिक धर्मप्रान्तों के गिरजाघरों में ख्रीस्तयाग समारोह शुरु हो गये थे।   

नाईरोबी में केनिया के फ्राँसिसकन मिशनरी धर्मसंघ की सि. मेरी एन विलियमसन ने सीएनआ न्यूज़ से कहा कि उनके देश में लॉक डाऊन छः जून तक जारी है तथा सन्त पापा के ख्रीस्तयाग में न शामिल होने पर उनके धर्मसंघ की धर्मबहनें बहुत निराश हैं। नाईरोबी के समयानुसार प्रतिदिन प्रातः आठ बजे सभी धर्मबहनें सन्त पापा द्वारा अर्पित ख्रीस्तयाग में शामिल हुआ करती थी। उन्होंने आशा व्यक्त की कि वाटिकन मीडिया इस सेवा को पुनः शुरु करेगा।  

कई देशों में लॉक डाऊन जारी
ग़ौरतलब है कि कोविद महामारी के कारण विश्व के अधिकांश राष्ट्रों में लॉकडाऊन घोषित कर दिया गया था, जिसमें अब शनैः शनैः छूट दी जा रही है, तथापि, भारत, नाईजिरिया, दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैण्ड, स्विटज़रलैण्ड तथा कई अन्य देशों में लॉक डाऊन अभी भी जारी है और इसके चलते इन देशों के काथलिकों को ख्रीस्तयाग समारोह की कोई सुविधा नहीं है। आयरलैण्ड में भी गिरजाघर केवल जुलाई माह में ही खुल पायेंगे। उधर लातीनी अमरीका तथा संयुक्त राज्य अमरीका के भी कई देशों में लॉक डाऊन जारी है।

मेक्सिको, कॉस्टा रिका तथा आर्जेनटीना जैसे राष्ट्रों के कई लोगों ने सन्त पापा फ्राँसिस को पत्र लिखकर पुनः ख्रीस्तयाग समारोहों की ऑनलाइन सेवा का आग्रह किया है। उनका कहना है कि प्रतिदिन सन्त पापा फ्राँसिस के ख्रीस्तयाग में शामिल होने से उन्हें संकट के इस दौर में सम्बल प्राप्त हुआ है।

इसी बीच, वाटिकन न्यूज़ को समस्त विश्व के हज़ारों काथलिकों से सन्देश मिले हैं जिनमें उन्होंने सन्त पापा द्वारा महामारी के दौर में अर्पित ख्रीस्तयागों तथा उनके प्रवचनों की सराहना की है। साथ ही "आई मिस @पोन्टीफैक्स द डेली मास लाइवस्ट्रीम" जैसे ट्वीट्स, कई लोगों द्वारा प्रकाशित किये गये हैं।  

Add new comment

2 + 5 =