जनसंख्या दिवस(World Population Day)

प्रतीकात्मक तस्वीर

हर साल 11 जुलाई को जनसंख्या नियंत्रण के उद्देश्य से विश्व जनसंख्या दिवस (World Population Day) मनाया जाता है. लगातार बढ़ती जनसंख्या ने विकास को प्रभावित किया है. इससे बेरोजगारी, भुखमरी, अशिक्षा जैसी समस्याएं बढ़ रही हैं, ऐसे में जनसंख्या नियंत्रण (Population Control) एक जरूरी कदम हो जाता है. इसी को ध्यान में रखते हुए संयुक्त राष्ट्र की ओर से इस दिन को मनाने की शुरुआत की गई. 11 जुलाई, 1987 को ग्लोबल जनसंख्या 5 अरब हो गई थी. संयुक्त राष्ट्र संघ ने बढ़ती जनसंख्या पर चिंता प्रकट की. इसके बाद 11 जुलाई 1989 को संयुक्त राष्ट्र में बढ़ती जनसंख्या को काबू करने और परिवार नियोजन को लेकर लोगों में जागरुकता (Awareness) लाने के लिए एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इसके साथ ही पहली बार वर्ल्ड पॉपुलेशन डे मनाया गया. इस मूल तिथि को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 'विश्व जनसंख्या दिवस' के रूप में निर्धारित करने का निर्णय लिया गया था दिसंबर 1990 में इसे आधिकारिक बना दिया. बढ़ती जनसंख्या पर कंट्रोल करने के लिए इस दिन कई सारे प्रोग्राम ऑर्गनाइज किए जाते हैं.

Add new comment

2 + 0 =