यूक्रेन द्वारा मारियुपोल से नागरिकों को निकालने का प्रयास जारी

यूक्रेन की सरकार का कहना है कि देश के तबाह हुए शहर मारियुपोल के एक स्टील प्लांट से सैकड़ों नागरिकों को निकालने का एक नया प्रयास चल रहा है। लेकिन चल रहा संघर्ष प्रयासों में बाधा डाल रही है।
मारियुपोल के खंडहरों के बीच एक सफाई अभियान चल रहा है, जो अब लगभग पूरी तरह से रूसी सेना के कब्जे में है। कार्यकर्ता नष्ट इमारतों के पास एक रूसी झंडा लगाने में मदद करते हैं, जैसे कि एक थिएटर जहां अधिकारियों का कहना है कि रूसी हमले में सैकड़ों लोग मारे गए।
अधिकारियों का दावा है कि यूक्रेन के इस दक्षिणी शहर में करीब 20 बच्चों सहित कम से कम 200 नागरिक अब भी यहां एक विशाल इस्पात संयंत्र के बंकरों में छिपे हुए हैं और कथित तौर पर संयंत्र में लगभग 2,000 यूक्रेनी लड़ाके हैं, जो यूक्रेन के चल रहे रूसी आक्रमण के बीच प्रतिरोध का प्रतीक बन गए।
यूक्रेन के राष्ट्रपति के चीफ ऑफ स्टाफ एंड्री यरमक ने कहा कि इस सप्ताह की शुरुआत में संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में नवीनतम बचाव अभियान शुरू होने के बाद से लगभग 500 नागरिकों को मारियुपोल से सुरक्षित निकाल लिया गया है।
लेकिन इस बात की चिंता बढ़ती जा रही है कि संयंत्र में और शायद मारियुपोल में कहीं और लोगों की मौत हो जाएगी। कीव का दावा है कि रूसी सैनिकों के अंदर जाने से पहले लगातार रूसी गोलाबारी में दसियों हज़ार लोग मारे गए थे।
रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन को चेतावनी दी है कि अज़ोवस्टल स्टील प्लांट में अभी भी उसके लड़ाके आत्मसमर्पण कर दें।
दूसरे विश्व युद्ध में नाजी जर्मनी पर सोवियत संघ की जीत को चिह्नित करते हुए, 9 मई के वार्षिक विजय दिवस से पहले पूरे मारियुपोल पर कब्जा करना रूस के लिए प्रतीकात्मक रुप से महत्वपूर्ण है।
एक व्यक्ति ने कहा, "हम 9 मई के समारोह से पहले मारियुपोल में स्मारकों और पार्कों को बहाल करने के इस मानवीय मिशन में मदद कर रहे हैं।"
रूसी राजधानी के नाम पर अपने प्रतिष्ठित युद्धपोत मोस्कवा को खोने के बाद रूस द्वारा मारियुपोल पर कब्जा करना, अपना चेहरा बचाने के प्रयास के रूप में भी देखा जाता है।
ऐसी खबरें आई हैं कि अमेरिका ने खुफिया जानकारी प्रदान की जिससे यूक्रेन को प्रतिष्ठित युद्धपोत मोस्कवा को डूबाने में मदद मिली। हालांकि, वाशिंगटन ने अन्य रिपोर्टों का खंडन किया कि संयुक्त राज्य अमेरिका ने एक सैन्य मुख्यालय पर हाल ही में एक अलग संघर्ष में रूसी जनरलों को लक्षित करने और मारने में यूक्रेन की मदद की।

Add new comment

4 + 15 =