यूआईएसजी की आमसभा रोम में 2 से 6 मई तक

धर्मसंघों की परमाधिकारिणियों की विश्व समिति यूआईएसजी की 22वीं आमसभा रोम में 2 से 6 मई को आयोजित की गयी है। सभा के प्रतिभागी व्यक्तिगत रूप से हॉटेल एरजिफ में उपस्थिति होकर या ऑनलाईन के माध्यम से भाग ले सकते हैं।
सभा की प्रस्तुतकर्ता होंगी ˸ सिस्टर जालन्ता काफका यूआईएसजी की अध्यक्षा (स्पानी, इताली, पोलिश), सिस्टर पत्रिसिया मुरी यूआईएसजी की कार्यकारी सचिव (अंग्रेजी), सिस्टर फ्रांका जोनता मरियानिस्ट धर्मसमाज की मदर जेनेरल (इताली, फ्रेंच), सिस्टर रोक्साने स्कारेस, नोट्रडेम की स्कूल की धर्मबहनों की मदर जेनेरल (अंग्रेजी)।
2022 में करीब 700 सुपीरियर जेनेरल सभा में भाग लेंगी जिनमें से 520 उपस्थिति में सभा में सहभाग होंगी। ये प्रतिभागी 71 विभिन्न देशों की हैं जिनमें सबसे अधिक संख्या यूरोप की है। अफ्रीका में सबसे अधिक प्रतिनिधित्ववाला देश कांगो है; एशिया में, भारत; उत्तरी अमेरिका, संयुक्त राज्य अमेरिका; मध्य और दक्षिण अमरीका में मैक्सिको और ब्राजील हैं।
सप्ताह भर जारी इस सभा में सिनॉडालिटी की विषयवस्तु पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगा। 10 प्रवक्ता होंगे जो 5 मूल विषयों पर प्रकाश डालेंगे।
26 अप्रैल को जारी प्रेस विज्ञप्ति में मुख्य विषयों के बारे बतलाया गया है- दुर्बलता, सिनॉडल प्रक्रिया, धार्मिक जीवन और धर्माध्यक्षीय धर्मसभा, सुदूर क्षेत्र, परिवर्तन के लिए बुलावा।
यूआईएसजी की अध्यक्षा सिस्टर जोलन्ता काफका ने कहा, "सिनॉडालिटी को प्रकट करने के लिए विभिन्न रास्ते हैं ˸ हमारी सभा अपनी सामग्री और विधि से, धर्मसमाजी जीवन में एक सिनॉडालिटी (एक साथ चलने) का अनुभव है। हम वास्तव में, पवित्र आत्मा के साथ खोजने के लिए सुनने हेतु एक खास स्थान का अनुभव करने की उम्मीद करते हैं। हम इस बारे में बातचीत करेंगे कि हम सिनॉडल प्रक्रिया में कैसे योगदान दे रहे हैं, कलीसिया में हम एक साथ सुनने को कैसे प्रोत्साहित कर सकते हैं और किस तरह एक कलीसिया के रूप में सामुदायिक विवेक की गतिशीलता में प्रवेश करने के लिए, आम तौर पर मानवीय विशेषता के रूप में दुर्बलता को स्वीकार कर सकते हैं।"
सन् 1965 से ही यूआईएसजी, सुपीरियर जेनेरलों को कलीसियाई पृष्टभूमि पर एक साथ आने के लिए स्थान की व्यवस्था कर रहा है।
कहा गया है कि विश्वभर के सुपीरियर जेनेरल को एक साथ लाने का मुख्य उद्देश्य है सेतु और नेटवर्क का निर्माण करना।

Add new comment

3 + 11 =