संत जोसेफ चर्च, नंदानगर इंदौर में माँ मरियम का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया। 

इंदौर: 08 सितम्बर: संत जोआकीम व संत अन्ना की सुपुत्री तथा मुक्तिदाता ईसा मसीह की माता मरियम का जन्मोत्सव सारे संसार में पूरी श्रद्धा व उल्लास के साथ मनाया गया। संत जोसेफ चर्च, नंदानगर, इंदौर में भी यह पर्व पूरी श्रद्धा व उल्लास से मनाया गया। शाम 06 बजे पवित्र रोजरी माला का जाप करने के बाद पर्व की पवित्र मिस्सा बलिदान प्रारम्भ हुई। पवित्र मिस्सा बलिदान के मुख्य याजक फादर थॉमस राज माणिकम थे तथा सहयाजक के रूप में फादर नवीन राज उपस्थित थे। इस दौरान बाईबल पाठों का वाचन श्रीमती हेलन मंगेश्कर तथा श्री बेंजामिन अंटो द्वारा किया गया। फादर नवीन राज ने सुसमाचार का वाचन किया। अपने संबोधन में फादर थॉमस ने कहा कि- "हम सभी माँ मरियम के बच्चे हैं,हम धन्य माँ मरियम का जन्मदिन मनाते हुए प्रसन्न है। जो माँ के पास आता है वह उसकी हर संभव मदद करती है।वह प्रभात का तारा है, उसके उदय से मानव मुक्ति कि शुरुआत हुई। वह ईश्वर द्वारा ईसा मसीह की माता बनने हेतु चुनी गई थी। हम सभी माँ मरियम के चरणों में आकर कॉरोना महामारी के खत्म होने के लिए प्रार्थना करें। उन्होंने कहा माँ एक आज्ञाकारी, समर्पित, विनम्र, तथा प्रेममय माता है। माँ हमारे दुखों मे हमारी मध्यस्था करती है।      इस दौरान कोरॉना महामारी के अंत हेतु,अच्छी वर्षा हेतु, विश्व शांति हेतू विशेष प्रार्थना निवेदन किये गए। सुनील रीफियल तथा  राजीव फ्रांसिस के दल द्वारा विशेष भक्ति गीतों की प्रस्तुति दी गई। मिस्सा बलिदान के पश्चात सभी को प्रसाद के रूप में केक वितरित किया गया। सभी ने प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए एक दूसरे को पर्व की बधाई दी। इस अवसर पर विशेष रूप से संत जोसेफ सेविका संस्था तथा संत अन्ना की धर्मबहने, समाजजन भारी संख्या मे उपस्तिथि थे। अंत में 30 अगस्त को फहराया गया माँ मरियम के ध्वज को उतारा गया। जनसंपर्क अधिकारी शर्मन फ्रांसिस ने सभी के सहयोग तथा नोवेन्ना तथा मा मरियम के जन्मोत्सव पर प्रोटोकॉल का ध्यान रखने हेतु धन्यवाद दिया।

Add new comment

1 + 0 =