विश्व के ईसाई धर्मसमाज ने प्रभु येसु रव्रीस्त का स्वर्गारोहण पर्व मनाया। 

ईस्टर संडे  कब्र में से पुनरुत्थान के बाद येसु अपने शिष्यों को 40 दिनों तक दर्शन देते रहे। इन 40 दिनों में येसु अपने शिष्यों को समझाते रहे कि जब येसु अपने पिता के पास स्वर्ग में आरोहित कर लिये जाऐंगे तब शिष्यों को संसार में उनकी शिक्षा का प्रचार करना है येसु ने मनुष्यों को पाप से मुक्ति दिलाने के लिए अपने प्राण भी गवाँ दिये40 दिनों के बाद येसु  पिता परमेश्वर द्वारा स्वर्ग में आरोहित कर लिये गए । इसी यादगार में यह पर्व अभी तक बड़ी धूमधाम से मनाया जाता आ रहा है । किन्तु इस वर्ष प्रत्येक देश तथा स्थान पर यह पर्व कोविड 19 की सावधानियों के साथ अपनी अपनी सुविधानुसार ऑनलाईन मनाया गया। आत्मदर्शन टीवी दुवारा इसका  ऑनलाईन प्रसारण किया गया। 
 

Add new comment

1 + 4 =