लेवी का बुलावा

संत मारकुस के अनुसार पवित्र सुसमाचार
2: 13-17

ईसा फिर निकल कर समुद्र के तट गये। सब लोग उनके पास आ गये और ईसा ने उन्हें शिक्षा दी। रास्ते में ईसा ने अलफ़ाई के पुत्र लेवी को चुंगीघर में बैठा हुआ देखा और उस से कहा, "मेरे पीछे चले आओ", और वह उठ कर उनके पीछे हो लिया। एक दिन ईसा अपने शिष्यों के साथ लेवी के घर भोजन पर बैठे। बहुत-से नाकेदार और पापी उनके साथ भोजन कर रहे थे, क्योंकि वे बड़ी संख्या में ईसा के अनुयायी बन गये थे। जब फ़रीसी दल के शास्त्रियों ने देखा कि ईसा पापियों और नाकेदारों के साथ भोजन कर रहे हैं, तो उन्होंने उनके शिष्यों से कहा, " वे नाकेदारों और पापियों के साथ क्यों भोजन करते हैं?" ईसा ने यह सुन कर उन से कहा, "निरोगियों को नहीं, रोगियों को वैद्य की ज़रूरत होती है। मैं धर्मियों को नहीं, पापियों को बुलाने आया हूँ।"

Add new comment

3 + 11 =

Please wait while the page is loading