दुखभोग की द्वितीय भविष्यवाणी

संत लूकस के अनुसार पवित्र सुसमाचार
9: 43-45

ईश्वर का यह प्रताप देख कर सब-के-सब विस्मय-विमुग्ध हो गये। सब लोग ईसा के कार्यों को देख कर अचम्भे में पड़ जाते थे; किन्तु उन्होंने अपने शिष्यों से कहा, "तुम लोग मेरे इस कथन को भली भाँति स्मरण रखो-मानव पुत्र मनुष्यों के हवाले कर दिया जायेगा"। परन्तु यह बात उनकी समझ में नहीं आ सकी। इसका अर्थ उन से छिपा रह गया और वे इसे नहीं समझ पाते थे। इसके विषय में ईसा से प्रश्न करने में उन्हें संकोच होता था।

Add new comment

5 + 2 =

Please wait while the page is loading