संत अंथोनी दिवस की शुभकामनाएं

संत अंथोनी

प्रति वर्ष 13 जून को संत अंथोनी दिवस के रूप में मनाया जाता है पदुआ के संत अंथोनी संत समाज के चमत्कारी संतों में से एक गिने जाते हैं। उनका जन्म लिस्बन, पुर्तगाल में एक धनी परिवार में हुआ था। उन्होंने काफी कम आयु में ही अपने परिवार की इच्छा के विरूद्ध अपना जीवन धार्मिक कार्यों के लिए सौंपने का निर्णय लिया और जब वे पुरोहित बने तो वे संत अगस्टीन के संघ में शामिल हुए। वहाँ रहते हुए उनकी मुलाकात जल्द ही संत फ्रांसिस संघ के प्रचारकों से हुई जो सुसमाचार प्रचार के लिए मोरक्को जा रहे थे। संत अंथोनी उनकी साधारण प्रचारक जीवनशैली से काफी आकर्षित हुए और जब वे प्रचारक प्रचार करते हुए शहीद हो गए तो संत अंथोनी इस बात से प्रभावित होकर संत फ्रांसिस संघ में शामिल हो गए।इटली के पदुआ शहर में अपने काम के द्वारा वे जल्द ही प्रिय और प्रशंसनीय संत के रूप में प्रसिद्ध हुए। उन्हें कलीसिया के चिकित्सक की उपाधी दी गई। उन्हें उनकी मृत्यु के एक वर्ष बाद 30 मई, 1232 में पोप गेगोरी नौंवे द्वारा संत घोषित किया गया। पारंपरिक रूप से प्रति वर्ष 13 जून को उनके दिवस के रूप में मनाया जाता है और इसके लिए विभिन्न पल्लियों में विधिवत रूप से 1 जून से ही उनके आदर में तेरह दिवसीय नोविना की जाती है। उनके विषय में एक बात गौर करने वाली है कि उन्हें खोई हुई वस्तुओं की प्राप्ति का संरक्षक संत कहा जाता है। यदि आपकी कोई वस्तु, आदमी या आप स्वयं खो गए हैं या अपने मार्ग से विचलित होकर भटकाव का जीवन जी रहे हैं और वापस सही राह में आने में खुद को असमर्थ महसूस कर रहे हैं तो आप संत अंथोनी की मध्यस्ता में प्रार्थना कर सकते हैं।

Add new comment

2 + 7 =

Please wait while the page is loading