अल्बानिया में भूकंप से जान माल की क्षति

अल्बानिया भूकंप में धराशायी भवन

अल्बानिया में आये सबसे शक्तिशाली भूकंप में कम से कम 21 लोगों की मौत हो गई और 600 घायल हो गए। भूकंप की तीव्रता 6.4 की रही। भूकंप का केंद्र अल्बानिया की राजधानी तिराना से 34 किलोमीटर दूर उत्तर-पश्चिम में रहा। यूरोपीय संघ ने निकट के राष्ट्रों से अल्बानिया की सहायता की अपील की। कई अन्य बाल्कन राष्ट्रों में भी भूकंप के झटके महसूस किये गये थे।मंगलवार को आए बड़े भूकंप के बाद राजधानी तिराना और पश्चिमी और उत्तरी क्षेत्रों में कई लोग इमारत के मलबे के नीचे दब गए थे। अल्बानियाई बचावकर्मी कई नष्ट इमारतों के बीच बचे लोगों की तलाश कर रहे थे।मंगलवार सुबह आए इस भूकंप के कुछ घंटों बाद बोसनिया के मोस्टार में भी भूकंप आया। हालांकि यहां से किसी तरह के इंसानी नुक़सान की ख़बर नहीं आई है।मंगलवार रात को भूकंप से कम से कम तीन अपार्टमेंट ढह गया और सोते हुए लोग भी मलवे में दब गये। बचाव दल फंसे हुए लोगों को मुक्त कराने के लिए काम कर रहा था। लेकिन कई के लिए मदद बहुत देर हो चुकी थी।यूरोपीय संघ स्थिति पर बारीकी से नज़र रखे हुए है। यूरोपीय संघ के कार्यकारी आयोग ने अल्बानिया के साथ अपनी एकजुटता व्यक्त की।उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ की विदेश नीति की प्रमुख फेडरिका मोगेरिनी और सहायता आयुक्त क्रिस्टोस स्टाइलिनाइड्स ने "संवेदना व्यक्त करते हुए और अल्बानिया के प्रति एकजुटता की पेशकश करते हुए एक घोषणा जारी की।"अल्बानिया के प्रधानमंत्री एडी रामा ने ट्विटर पर लिखा, ''हम पीड़ितों के साथ हैं. हम प्रभावित इलाक़ों में लोगों की मदद के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं.''
अल्बानियाई भूकंप दक्षिणी इटली में भी महसूस किया गया था।

Add new comment

13 + 3 =

Please wait while the page is loading