प्रतीक्षा का समय: आगमन (एडवेंट)

आगमन का पहला रविवार पूजन-वर्ष का का पहला दिन है। 'आगमन' क्रिसमस के पूर्व लगभग चार सप्ताह तक मसीह के आने की तैयारी में भक्तिपूर्वक और प्रार्थनामय रूप से मनाया जाता है। एडवेंट (आगमन) शब्द लैटिन भाषा से आया है जिसका अर्थ है- 'पहुंचना' या 'आना।' आगमन काल हमारे लिए आध्यात्मिक तैयारी एवं प्रतीक्षा का समय है। येसु के जन्म के लिए स्वयं को तैयार करने का यह उचित समय होता हो। इस साल का यह आगमन काल 24 दिनों का होगा।

आगमन काल हमें पूर्णरूप से अपनी जिंदगी प्रभु को अर्पित करने के लिए आमंत्रित करता है। परंपरा के अनुसार आगमन की माला 'रीथ' (पुष्पांजलि) हरी टहनियों से बनाई जाती है , जिसके अंदर चार मोमबत्तियां लगाई जाती हैं , जो कि ज्योति का प्रतीक हैं। वह ज्योति है स्वयं येसु मसीह।

आगमन के प्रत्येक रविवार को आगमन की एक विशेष मोमबत्ती जलाई जाती है। कैथोलिक परंपरा बताती है कि चार मोमबत्तियाँ, एडवेंट के चार सप्ताह का प्रतिनिधित्व करती हैं, प्रत्येक एक हजार साल तक खड़ी रहती हैं, आदम और हेवा के समय से लेकर उद्धारकर्ता प्रभु येसु के जन्म तक कुल 4,000 वर्षों तक।

आगमन काल में बैगनी रंग प्रयोग में लाया जाता है , जो कि राजकीय शान का प्रतीक है। मोमबत्ती जलाना हमें यह याद दिलाता है कि येसु संसार की ज्योति हैं।

 

आगमन पुष्पांजलि मोमबत्तियों का प्रतीक

एडवेंट पुष्पांजलि की शाखाओं पर चार मोमबत्तियाँ होती हैं: तीन बैंगनी मोमबत्तियाँ और एक गुलाबी मोमबत्ती। साथ ही एक सफेद मोमबत्ती को पुष्पांजलि के केंद्र में रखा जाता है। कुल मिलाकर, ये रंगीन आगमन मोमबत्तियाँ दुनिया में मसीह के प्रकाश के आने का प्रतिनिधित्व करती हैं।

 

पहली मोमबत्ती : भविष्यवाणी मोमबत्ती

आगमन के पहले रविवार को, पहली बैंगनी मोमबत्ती जलाई जाती है। इस मोमबत्ती को आम तौर पर भविष्यवक्ताओं की याद में "भविष्यवाणी या आशा की मोमबत्ती" कहा जाता है, मुख्य रूप से नबी इसायाह जो मसीह के जन्म की भविष्यवाणी करते हुए कहते हैं: "देखो, एक कुँवारी गर्भवती होगी और पुत्र प्रसव करेगी, और उसका नाम एम्मानुएल रखा जायेगा, जिसका अर्थ हैः ईश्वर हमारे साथ है।" यह पहली मोमबत्ती आने वाले मसीहा की प्रत्याशा में आशा या उम्मीद का प्रतिनिधित्व करती है। साथ ही यह मोमबत्ती लोगों की "आशा का प्रतीक" है।

 

दूसरी मोमबत्ती: बेथलहम कैंडल या तैयारी की मोमबत्ती

आगमन के दूसरे रविवार को, दूसरी बैंगनी मोमबत्ती जलाई जाती है। यह मोमबत्ती आमतौर पर प्यार का प्रतिनिधित्व करती है। जिसे बेथलहम मोमबत्ती, या तैयारी की मोमबत्ती कहा जाता है।

"यह आप लोगों के लिए पहचान होगी-आप एक बालक को कपड़ों में लपेटा और चरनी में लिटाया हुआ पायेंगे।"(सन्त लूकस 2:12)

 

तीसरी मोमबत्ती: चरवाहों या ख़ुशी की मोमबत्ती

आगमन के तीसरे रविवार को गुलाबी रंग की मोमबत्ती जलाई जाती है। इस गुलाबी मोमबत्ती को "शेफर्ड कैंडल" कहा जाता है, और यह खुशी का प्रतिनिधित्व करती है।

उस प्रान्त में चरवाहे खेतों में रहा करते थे। वे रात को अपने झुण्ड पर पहरा देते थे। प्रभु का दूत उनके पास आ कर खड़ा हो गया। ईश्वर की महिमा उनके चारों ओर चमक उठी और वे बहुत अधिक डर गये। स्वर्गदूत ने उन से कहा, "डरिए नहीं। देखिए, मैं आप को सभी लोगों के लिए बड़े आनन्द का सुसमाचार सुनाता हूँ। आज दाऊद के नगर में आपके मुक्तिदाता, प्रभु मसीह का जन्म हुआ है। (सन्त लूकस 2:8-11)

 

चौथी मोमबत्ती: देवदूत मोमबत्ती शांति की मोमबत्ती

चौथी और आखिरी बैंगनी मोमबत्ती, जिसे अक्सर "एंजल्स कैंडल" कहा जाता है, शांति का प्रतिनिधित्व करती है और यह आगमन के चौथे रविवार को जलाई जाती है।

एकाएक उस स्वर्गदूत के साथ स्वर्गीय सेना का विशाल समूह दिखाई दिया, जो यह कहते हुए ईश्वर की स्तुति करता था, "सर्वोच्च स्वर्ग में ईश्वर की महिमा प्रकट हो और पृथ्वी पर उसके कृपापात्रों को शान्ति मिले!" (सन्त लूकस 2:13-14)

 

पाँचवी मोमबत्ती: येसु की मोमबत्ती

क्रिसमस की पूर्व संध्या पर, केंद्र में सफेद मोमबत्ती को जलाया जाता है। इस मोमबत्ती को "येसु की मोमबत्ती" कहा जाता है और मसीह के जीवन का प्रतिनिधित्व करता है जो दुनिया में आया है। सफेद रंग शुद्धता का प्रतिनिधित्व करता है। मसीह पापरहित, निष्कलंक, शुद्ध उद्धारकर्ता है। जो लोग उद्धारकर्ता के रूप में मसीह को प्राप्त करते हैं, ईश्वर उन्हें पापमुक्त कर देते है।

“आओ, हम एक साथ विचार करें। तुम्हारे पाप सिंदूर की तरह लाल क्यों न हों, वे हिम की तरह उज्जवल हो जायेंगे; वे किरमिज की तरह मटमैले क्यों न हों, वे ऊन की तरह श्वेत हो जायेंगे। (इसायाह 1:18)

 

तो आइये हम सब मिलकर, जब हम आगमन काल में प्रवेश कर चुके है तो हम आध्यात्मिक रूप से स्वयं को तैयार करें कि जिस मुक्तिदाता की हम प्रतीक्षा कर रहे वह हमारे हृदय में अपना स्थाई निवास बना ले। यह आगमन काल आप सभी के लिए मंगलमय हो, इसी कामना के साथ धन्यवाद!

 

Add new comment

4 + 1 =

Please wait while the page is loading